चीन के बैंक में है डोनाल्ड ट्रंप का अपना खाता:-न्यूयॉर्क टाइम्स रिपोर्ट

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह स्वीकार किया है कि एक चीनी बैंक में उनका खाता है.इस बैंक खाते को ट्रंप इंटरनेशनल होटल्स मैनेजमेंट नियंत्रित करता है और वर्ष 2013 से 2015 के बीच इस बैंक खाते से स्थानीय करों का भुगतान भी किया जाता रहा.डोनाल्ड ट्रंप के प्रवक्ता के अनुसार, एशिया में होटल इंडस्ट्री से जुड़े सौदों की संभावनाएं तलाशने के लिए यह बैंक खाता खोला गया था.राष्ट्रपति ट्रंप चीन में व्यापार करने वाली अमरीकी कंपनियों की आलोचना करते रहे हैं और उन्होंने चीन के ख़िलाफ़ व्यापारिक युद्ध छेड़ रखा है.

न्यूयॉर्क टाइम्स अख़बार ने डोनाल्ड ट्रंप के टैक्स रिकॉर्ड से उनके इस बैंक खाते के बारे में पता लगाया, जिसमें डोनाल्ड ट्रंप के व्यक्तिगत और कंपनी, दोनों के वित्तीय विवरण शामिल थे.

अख़बार ने अपनी पिछली रिपोर्ट में दावा किया था कि साल 2016-2017 में जब ट्रंप अमरीका के राष्ट्रपति बने थे, तब अमरीकी फ़ेडरल टैक्स के तौर पर उन्होंने सिर्फ़ 750 अमरीकी डॉलर का भुगतान किया था.चीनी जासूस जिसने लिंक्डइन के ज़रिए अमरीका को हिलाकर रख दियाअमरीका और चीन के रिश्ते सबसे निचले स्तर पर कैसे आ गए हैं

ट्रंप चीन के मामले में बाइडन के नज़रिये की आलोचना करते हैंहालांकि, डोनाल्ड ट्रंप उस रिपोर्ट पर यह सफ़ाई दे चुके हैं कि उन्होंने टैक्स बचाने के तमाम नियमों का फ़ायदा उठाया, इस वजह से उन्हें इतना कम टैक्स देना पड़ा.अख़बार की ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार, ट्रंप के चीनी बैंक खाते से स्थानीय करों में 1,88,561 अमरीकी डॉलर का भुगतान किया गया.अमरीका में 3 नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होने वाला है और इसके लिए प्रचार करते हुए राष्ट्रपति ट्रंप अपने प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन और चीन को लेकर उनकी नीतियों की आलोचना करते रहे हैं.अपनी बात में दम फूँकने के लिए ट्रंप प्रशासन की ओर से कई बार ऐसे संकेत भी दिए गए हैं कि डेमोक्रैट पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडन के बेटे हंटर और चीन के बीच व्यापारिक संबंध हैं.

विदेशी बैंकों में खातेट्रंप की कंपनी के वकील एलन गार्टन ने न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया है कि ‘ट्रंप इंटरनेशनल होटल्स मैनेजमेंट ने अमरीका में स्थित एक चीनी बैंक में अपना खाता इसलिए खोला था ताकि स्थानीय करों का भुगतान करना आसान हो जाए.’गार्टन ने दलील दी कि ‘2015 के बाद से इस चीनी बैंक खाते से ट्रंप की टीम की ओर से कोई सौदा, लेन-देन या अन्य व्यावसायिक गतिविधियाँ नहीं की गईं. हालांकि, यह बैंक खाता खुला रहा, पर इसका उपयोग किसी अन्य उद्देश्य के लिए कभी नहीं किया गया.’डोनाल्ड ट्रंप अमरीका के राष्ट्रपति बनने से पहले एक अंतरराष्ट्रीय व्यापारी रहे हैं जिनके रियल-एस्टेट के अलावा कई काम-धंधे हैं.न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि डोनाल्ड ट्रंप के चीन के अलावा, ब्रिटेन और आयरलैंड के बैंकों में भी खाते हैं.

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, चीन में अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप की योजनाओं को मोटे तौर पर ट्रंप इंटरनेशनल होटल्स मैनेजमेंट संचालित करता है.यह न्यूज़ रिपोर्ट और इससे सामने आईं जानकारियाँ क्या चुनाव को प्रभावित कर पाएंगी, यह वक़्त बताएगा.राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग में अब सिर्फ़ दो हफ़्ते शेष हैं. गुरुवार को राष्ट्रपति पद के दोनों उम्मीदवारों, डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडन के बीच एक बार फिर सीधी बहस होने वाली है.अब तक ओपीनियन पोल्स में डेमोक्रैट पार्टी की स्पष्ट बढ़त बनी हुई है.राष्ट्रपति ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप अब भी प्रचार अभियान से बाहर हैं. बताया गया है कि वे अब भी कोरोना संक्रमण से जुड़े कुछ लक्षणों का सामना कर रही हैं.बुधवार को पहली बार, अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा अपनी पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन के लिए प्रचार में उतरने वाले हैं. वहीं राष्ट्रपति ट्रंप बुधवार को नॉर्थ कैरोलाइना के गैसटोनिया में एक चुनावी सभा करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *