Summer Special: गर्मी वाले जूस और स्मूदी से बढ़ न जाए आपका वजन, जानिए बनाना और मैंगो शेक में कौन है बेहतर..

गर्मियों के मौसम में असली मजा तो ठंडे जूस और स्मूदी पीने में आता है। इस मौसम में बाजार में ऐसे कई फल मौजूद हैं, जिसका इस्तेमाल कर कई तरह के ड्रिंक्स तैयार की जा सकती है। कुछ लोग गर्मी में ठंडक पाने के लिए तरबूज के रस के ताजा स्वाद लेते हैं, तो कई ब्लूबेरी, आम, केले और अन्य फलों का स्मूदी बनाकर पीना पसंद करते हैं। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इन मीठे जूस, फ्रूट शेक और स्मूदी से आपका वजन भी बढ़ सकता है। दूध, मलाई, zzचीनी और ड्राई फ्रूट्स मिलाकर बने इन शेक और स्मूदी में कैलोरी की हाई मात्रा होती है, जो गर्मी से राहत तो दिलाएंगे लेकिन आपका बढ़ा सकते हैं।

मैंगो और बनाना शेक लोगों का पसंदीदा पेय है। ये दोनों शेक बेहद ही स्वादिष्ट और हेल्दी होते हैं। इन शेक से होने वाले फायदे की बात करें, तो इन दोनों में हाई फाइबर होते हैं। इन्हें पीने के बाद लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। लेकिन लोगों के दिमाग में अक्सर ये चीज घूमती रहती है कि इन दोनों में से किसे पीने से वजन बढ़ सकता है और किसे पीने से वजन घट सकता है? इस चीज को जानने के लिए आपको सबसे पहले इनमें पाए जाने वाले कैलोरी के बारे में जानना होगा।

प्रतीकात्मक तस्वीर

मैंगो शेकफलों का राजा आम गर्मी के मौसम में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के और फोलेट जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। वहीं इसमें पाए जाने वाले न्यूट्रिशनल वैल्यू की बात करें, तो एक आम से बने मैंगों शेक में 250 कैलोरी होती है।मैंगो शेक

बनाना शेक

कब्ज या डायरिया जैसी समस्या से निपटने के लिए केला को सबसे अच्छा फल माना जाता है। इसमें हाई फाइबर होता है। इसके न्यूट्रिशनल वैल्यू की बात करें, तो एक गिलास बनाना शेक में 220 कैलोरी होती है।

बनाना शेक
कब्ज या डायरिया जैसी समस्या से निपटने के लिए केला को सबसे अच्छा फल माना जाता है। इसमें हाई फाइबर होता है। इसके न्यूट्रिशनल वैल्यू की बात करें, तो एक गिलास बनाना शेक में 220 कैलोरी होती है।

मैंगो और बनाना शेक में कौन बढ़िया?बनाना शेक के अपेक्षा मैंगो शेक में कैलोरी की ज्यादा मात्रा होती है। कभी-कभी बिना चीनी के मैंगो शेक का सेवन करना ठीक है। क्योंकि चीनी केवल कैलोरी को जोड़ता है, जो मोटापे और मधुमेह रोगियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। वहीं आप इन शेक को घर पर तैयार कर के पीते हैं, तो बहुत अच्छा है।मैंगो और बनाना शेक में कौन बढ़िया?
बनाना शेक के अपेक्षा मैंगो शेक में कैलोरी की ज्यादा मात्रा होती है। कभी-कभी बिना चीनी के मैंगो शेक का सेवन करना ठीक है। क्योंकि चीनी केवल कैलोरी को जोड़ता है, जो मोटापे और मधुमेह रोगियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। वहीं आप इन शेक को घर पर तैयार कर के पीते हैं, तो बहुत अच्छा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *